ख़बर शेयर करें -

देहरादून। डेंगू से निपटने के लिए नगर निगम की ओर से लार्वा मिलने पर पिछले महीने किए गए चालान में जुर्माना नहीं देने वालों की आरसी जारी करने के लिए नगर निगम ने सूची तैयार कर ली गई है। इस तरह के मामले तीन सौ से ज्यादा है।
नगर निगम की ओर से डेंगू और चिकनगुनिया से निपटने के लिए बीते दो महीने में 588 चालान किए गए। जिसमें होटल, रेस्टोरंट, शोरूम, मॉल, दुकानें, स्कूल से लेकर घर तक शामिल रहे। कई लोगों की ओर से जुर्माना दिया जा चुका है। लेकिन सितम्बर महीने में किए गए चालानों में जुर्माना नहीं दिया गया है। सितंबर महीने में 369 लोगों के चालान कर करीब 22 लाख का जुर्माना लगाया गया। कुछ ही लोगों ने जुर्माना दिया है। ऐसे में नगर निगम ने उन लोगों की सूची तैयार की है, जिन्होंने जुर्माना निगम में जमा नहीं किया है। इन तीन सौ से ज्यादा लोगों में दो हजार, चा हजारह, पांच हजार, 20 हजार, 50 हजार से लेकर पांच लाख तक का जुर्माना है। ऐसे लोगों की सूची तैयार कर आरसी जारी करने की तैयारी है। नगर निगम के मुख्य नगर स्वास्थ्य अधिकारी डा.अविनाश खन्ना ने बताया कि निगम की ओर से डेंगू मच्छर का लार्वा मिलने पर निगम ने तमाम चालान किए हैं। कईयों ने जुर्माना दे दिया है। लेकिन जिन्होंने जुर्माना नहीं दिया है, उनकी सूची तैयार कर आरसी के लिए तहसील भेजी जाएगी।
स्मार्ट सिटी पर लगे जुर्माने की वसूली ठेकेदार से होगी
स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत शहर में खुदी सड़कों के चलते नगर निगम ने पूर्व में लार्वा को लेकर अभियान चलाया था। ऐसे में स्मार्ट सिटी की सड़कों में हुए गड्ढों पर लार्वा मिले थे। जिस पर निगम ने स्मार्ट सिटी पर हजारों रुपए का जुर्माना लगाया था। नगर निगम की ओर से अब ठेकेदार से उक्त जुर्माने की वसूली करने की तैयारी की जा रही है।

स्कूलों से भी नहीं आया जुर्माना
नगर निगम ने लार्वा को लेकर कई स्कूलों का भी पांच हजार से दस हजार तक चालान किया था। स्कूलों की तरफ से भी जुर्माना निगम में नहीं दिया गया है। वहीं विशाल मेगामार्ट पर पांच लाख का जुर्माना लगाया था। जिस पर भी वसूली की कार्रवाई करने की तैयारी है। ऐसे ही जुर्माना लगाने के चलते सेंट्रियों मॉल ने निगम से कुछ समय मांगा है।

By amit

You missed